Vishwakarma Puja on 16 September 2020
Vishwakarma Baba

Vishwakarma Puja Vidhi – विश्वकर्मा पूजा विधि

Updated on July 6, 2020

Vishwakarma Puja is performed with the complete faith in Lord Vishwakarma and is always recommended to begin the rituals (puja) at the Sankranti Moment (muhurta) to get the maximum benefits from Lord Vishwakarma.

There are different ways to worship Lord Vishwakarma. Some people used to establish a statue or photo frame of lord Vishwakarma, and many believe their tools and equipment as their Lord Vishwakarma.

Terms of Vishwakarma Puja Vidhi

  1. Take a proper bath in the morning before worshiping Lord Vishwakarma.
  2. One should sprinkle rice and flower in the workspace and house in the memory of Lord Vishwakarma.
  3. One should offer prayers to Lord Vishwakarma in front of the fire after following all the rituals of worshiping statue, tools, and machines.

विश्वकर्मा पूजा विधि

विश्वकर्मा पूजा, भगवान विश्वकर्मा में पूरी आस्था के साथ की जाती है। मान्यतानुसार भगवान विश्वकर्मा से अधिकतम लाभ प्राप्त करने के लिए ये पूजा मुहूर्त के वक़्त ही किया जाना चाहिए।

भगवान विश्वकर्मा की पूजा करने के अलग-अलग तरीके हैं। जहाँ कुछ लोग भगवान विश्वकर्मा की एक प्रतिमा या फोटो फ्रेम स्थापित करते हैं, वहीं कई लोग उनके उपकरणों को ही भगवान विश्वकर्मा मानते हैं और उनकी ही पूजा करते हैं।

विश्वकर्मा पूजा विधि-विधान की शर्तें

  1. विश्वकर्मा जी की पूजा करने से पहले सुबह में उचित स्नान करना चाहिए।
  2. कार्यक्षेत्र और घर में विश्वकर्मा जी की याद में चावल और फूल छिड़कना चाहिए।
  3. प्रतिमा, औजार और मशीनों की पूजा करने के सभी अनुष्ठानों का पालन करने के बाद, भगवान विश्वकर्मा से अग्नि के समक्ष प्रार्थना करनी चाहिए।

Copyright © Vishwakarma Puja 2018-2020. All Right Reserved.

In association with www.festivalpuja.com.